संत कबीर वाणी:जैसा भोजन और पानी वैसा मन और वाणी


आवत गारी एक है, उलटत होय अनेक
कहैं कबीर नहिं उलटिए, वही एक की एक

संत कबीर जी का कहना है की गाली आते हुए एक होती है, परन्तु उसके प्रत्युत्तर में जब दूसरा भी गाली देता है, तो वह एक की अनेक रूप होती जातीं हैं। अगर कोई गाली देता है तो उसे सह जाओ क्योंकि अगर पलट कर गाली दोगे तो झगडा बढ़ता जायेगा-और गाली पर गाली से उसकी संख्या बढ़ती जायेगी।

जैसा भोजन खाईये, तैसा ही मन होय
जैसा पानी पीजिए, तैसी बानी होय

संत कबीर कहते हैं जैसा भोजन करोगे, वैसा ही मन का निर्माण होगा और जैसा जल पियोगे वैसी ही वाणी होगी अर्थात शुद्ध-सात्विक आहार तथा पवित्र जल से मन और वाणी पवित्र होते हैं इसी प्रकार जो जैसी संगति करता है उसका जीवन वैसा ही बन जाता है।

एक राम को जानि करि, दूजा देह बहाय
तीरथ व्रत जप तप नहिं, सतगुरु चरण समाय

कबीर कहते हैं की जो सबके भीतर रमा हुआ एक राम है, उसे जानकर दूसरों को भुला दो, अन्य सब भ्रम है। तीर्थ-व्रत-जप-तप आदि सब झंझटों से मुक्त हो जाओ और सद्गुरु-स्वामी के श्रीचरणों में ध्यान लगाए रखो। उनकी सेवा और भक्ति करो

Advertisements
Post a comment or leave a trackback: Trackback URL.

टिप्पणियाँ

  • mamta  On 19/03/2008 at 10:46

    कबीर के दोहे पढने से एक शान्ति की अनुभूति होती है।

  • paramjitbali  On 19/03/2008 at 16:54

    बढ़िया प्रस्तुति।

  • dharam  On 04/06/2009 at 08:01

    kabeer ji ka dohaa aatamonaty ka lia han.

  • sujata  On 16/02/2010 at 16:29

    i like it very much

  • ANIL  On 09/07/2010 at 18:50

    Satguru Sahiban ji ki mahima ka bakhan kabir ji ki vadiyo main padhne ko milta hai, jisse mann main khushi ka lahja jag jata hai. Hare Madhav, Madhav Nagar Katni (M.P.)

  • sdsomani  On 13/10/2010 at 12:43

    kabir ke ram ko koi birla manav hi samaj sakta hai duniya to dashrath putar ayodhya ke ram ko hi janti hai. jabki yah sara sansar sab kuch us ram ka hai jo satsawaroop hai anand lok ka malik hai ( parmatma hai ) atma aur parmatma ka milan hi kabir ka rasta hai baki sab faltu aur bekar hai duniya to faltu ke kamo aur dekha dekhi nakal karti hai

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / बदले )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: